8 जगह नेचर और रोमांच के दीवानों के लिए

[mashshare]

चेलहिमाचल प्रदेश का खूबसूरत हिल स्‍टेशन है चेल, यह शिमला से करीब 44 किमी दूर पड़ता है। यहां की हवा में ही ताजगी भरी है। ऊंचे-ऊंचे पहाड़ और आसपास की हरियाली पर्यटकों को खासा आकर्षित करती है। प्रकृति से लगाव रखते हैं तो चेल की एक बार सैर जरूर करें। यहां ठहरने की उचित व्‍यवस्‍था है। इसके अलावा दुनिया का सबसे ऊंचा क्रिकेट ग्राउंड भी यहां मौजूद है। वहीं घुड़सवारी के शौकीन हैं तो एक राइड ले सकते हैं।

गावीवाइल्‍डलाइफ सेंचुरी पार्क देखकर थक गए हैं तो आप केरल के इस छोटे से गांव की सैर कर सकते हैं। यहां आप सड़क पर चलते-चलते शेर, हाथी और हिरणों को देख सकते हैं। यहां आपको किसी भी टूरिस्‍ट गाइड की जरूरत नहीं पड़ेगी, बस अपने रास्‍ते चलते रहिए आप, खुद-ब-खुद प्रकृति के करीब पहुंच जाएंगे।

चंपानेरइतिहास का नजदीक से देखना चाहते हैं गुजराम के चंपानेर की सैर जरूर करें। यह यूनेस्‍को की विश्‍व धरोहरों में शामिल है। भारतीय इतिहास में रुचि रखने वालों के लिए यह जगह बिल्‍कुल परफेक्‍ट है। यहां आपको 11 अलग-अलग डिजाइन की पुरानी इमारतें दिख जाएंगी। इसके अलावा कई मकबरे भी यहां मौजूद हैं।

कनातलरोमांच से दूर किसी रोमांटिक जगह की तलाश में हैं, तो उत्‍तराखंड का कनातल जरूर घूमकर आइए। यहां आपको पहाड़ों का शानदार नजारा देखने को मिलेगा। मसूरी से कुछ ही दूरी पर बसा कनातल रोमांस के लिए ही बना है। यहां कई खूबसूरत और लग्‍जरी होटल भी मिलेंगे।

तीर्थन वैलीहिमाचल प्रदेश की तीर्थन वैली एडवेंचर्स स्‍पोर्ट्स के लिए जानी जाती है। यहां दूर-दूर से लोग ट्रैकिंग करने आते हैं। इसके अलावा चारों ओर पानी से घिरा एक छोटा सा आईलैंड भी है, जहां पहुंचने के लिए आपको ब्रिज का उपयोग करना पड़ेगा।

नूबरा वैलीलेह से करीब 140 किमी दूर नूबरा वैली को देखकर आपको प्रकृति से प्रेम हो जाएगा। नूबरा वैली की एक खासियत है कि यहां आपको पर्वत, झरनें, रेत और हरियाली सब एक जगह देखने को मिल जाएगी।

बूंदीराजस्‍थान का बूंदी शहर काफी मशहूर है। यहां रुडयार्ड किपलिंग से लेकर रवींद्रनाथ टैगोर तक कई बड़े-बड़े लोग आ चुके हैं। यहां आएं, तो रानी जी की बाउरी देखना मत भूलें। इसके अलावा दभाई कुंड और नागर सागा कुंड भी मशहूर हैं।

मंडूमध्‍य प्रदेश के मंडू शहर का पुराना इतिहास है। यहां कई मशहूर किलें और इमारतें हैं। इसके अलावा शिप पैलेस, जहाज महल, रानी रुपवती पवेलियन और होशेंग मकबरा प्रसिद्ध हैं।